Husband Romantic Shayari | love Shayari For Husband

Spread the love

In this page you will read husband romantic Shayari, Love Romantic Shayari for husband, shayari for husband, miss you husband romantic Shayari, Husband wife Shayari etc…

Husband Romantic Shayari

Husband romantic shayari

क्या पता किसी जनम हम साथ रहें हों,
और उन सात जनमों के वादे में से, अभी एकाध रह रहे हों…
Kya pta kisi janam ham saath rahen hon,
Aur un saath janmon ke vaade mein se, abhi ekaadh rah rahe hon…

Husband Romantic Shayari

तुम्हारे खयालों से, मेरे दिन की शुरुआत होती है,
कुछ बीते, कुछ आने वाले लम्हों से बात होती है…
शाम जब ढलता है, मैं भी तुम्हारे साथ ढल जाती हूँ,
और बस ऐसे ही, मेरी सुबह और शाम होती है…
Tumhare khayalon se, mere din ki shuruaat hoti hai, kuchh beete,
Kuchh aane vaale lamhon se baat hoti hai…
Shaam jab dhalta hai, main bhi tumhare saath dhal jaati hun,
Aur bas aise hi, meri subah aur shaam hoti hai…

Husband Romantic Shayari

हर घड़ी, हर वक्त, मुझे तुम्हारे साथ चलना है…
अपना हर एक पल, मैं तुम्हारे साथ गुजारू, यही मेरी तमन्ना है…
Har ghadi, har vakt, mujhe tumhare saath chalana hai…
Apana har ek pal, main tumhare saath gujaru, yahi meri tamanna hai…

Husband Romantic Shayari

नजदीकियां हमारा साथ न छोड़े, हम फ़सालों को इंकार करते हैं…
जितना आप हमसे प्यार करते हो, उतना ही हम आपसे प्यार करते हैं…
Najdikiyan hamara saath na chhode, ham fasalon se inkaar karte hain…
Jitna aap hamshe pyaar karate ho, utana hi ham aapse pyaar karte hain.

Husband Romantic Shayari

मैं होठों से कह नहीं पाती, तो नजरें झुका के मोहब्बत का इजहार करती हूँ…
सिर्फ तुम ही मुझसे प्यार नहीं करते, मैं भी तुमसे बहोत प्यार करती हूँ…
Main hothon se kah nahin paati, to najaren jhuka ke mohabbat ka ijhar karti hun…
Sirf tum hi mujhse pyaar nahin karte, main bhi tumse bahot pyaar karti hun…

Romantic Shayari for Husband

Husband Romantic shayari

ये जो रिस्ता जोड़ा है आपने, इस रिश्ते को हम सिर्फ प्यार से जोड़ेंगे..
तुम कोशिश करके देखना चाहो तो देख लो, हम उम्र भर आपका साथ नहीं छोड़ेंगे…
Ye jo rista joda hai aapne, is rishte ko ham sirf pyaar se jodenge..
Tum koshish karke dekhna chaaho to dekh lo, ham umr bhar aapka saath nahin chhodenge…

Husband Romantic Shayari

हम हर पल, हर घड़ी, एक ही ख्वाब देखते हैं…
जब आँख बंद करते हैं, तो बस आप को देखते हैं…
Ham har pal, har ghadi, ek hi khwab dekhte hain…
Jab aankh band karte hain, to bas aap ko dekhte hain…

Husband Romantic Shayari

वजह तुम हो, जो मैं अपने आपको सवारती हूँ…
तस्वीर तुम्हारी भी नजर आती है, जब आईने में अपने आप को निहारती हूँ…
Vajah tum ho, jo mai apane aapko savarati hun…
Tasveer tumhari bhi najar aati hai, jab aaine mein apne aap ko niharati hun…

अब हर वक्त मैं तुम्हारे साथ गुजारती हूँ
जब आइना देखती हूँ, तो मुस्कुराती हूँ…
ये कैसी मोहब्बत है, वो मुझे सवार रहीं है
घंटों बैठती हूँ, और खुद को निहारती हूँ…
Ab har vakt main tumhare saath gujarti hun
Jab aaina dekhti hun, to muskurati hun…
Ye kaisi mohabbat hai, vo mujhe savaar rahi hai
Ghanton baithati hun, aur khud ko niharati hun…

Husband Romantic Shayari

तुमसे मिली तो मैं पूरी हो गई, तुम्हारी चाहतें अब मेरे लिए जरुरी हो गईं…
तुम रहना साथ मेरे, यूँ ही उम्र भर, इस ज़माने से अब मेरी दूरी हो गई…
Tumse mili to main poori ho gayi, tumhari chahaten ab mere lie jaruri ho gayin…
Tum rahana saath mere, yun hi umr bhar, is zamane se ab meri doori ho gayi…

Love Shayari For Husband

Love Romantic husband Shayari

मेरे रहने की जगह हो तुम…
मैं जो जी रहीं हूँ, उसकी वजह हो तुम…
Mere rahne ki jagah ho tum…
Main jo ji rahi hun, uski vajah ho tum…

Husband Romantic Shayari

अब लगता है, जैसे बस इश्क़ बह रहा हो, इन हवाओं में…
जबसे पूरी हुई हैं वो मन्नतें मेरी, जो मांगी थी कभी मैंने दुआओं में…
Ab lagta hai, jaise bas ishq bah raha ho, in hawaon mein…
Jabse poori hui hain vo manaaten meri, jo mangi thi kabhi maine duaon mein…

Husband Romantic Shayari

इश्क़ हुआ हैं हमें आपसे, इस इश्क़ पे ऐतबार कर लेंगे..
तुम गुनाह कर के तो देखो, हम तुम्हें गिरफ्तार कर लेंगे…
Ishq hua hain hamen aapse, is ishq pe aitbaar kar lenge..
Tum gunaah kar ke to dekho, ham tumhen giraftaar kar lenge…

Husband Romantic Shayari

आने वाला हर एक कल, जैसे बस हमारे लिए सज रहा हैं…
हम तुम्हारे साथ चल रहें हैं, इसीलिए ये सफर अच्छा लग रहा हैं…
Aane vaala har ek kal, jaise bas hamare lie saj raha hain…
Ham tumhare saath chal rahen hain, isilie ye safar achchha lag raha hain…

Husband Romantic Shayari

मेरी चाहतें मुझे बेक़रार करती हैं,
मुझसे ज्यादा, ये तुमसे प्यार करती हैं…
Meri chahaten mujhe beqarar karti hain…
Mujhse jyaada, ye tumse pyaar karti hain…

इस दिल पे हाथ रख के, अपने बारे में जान लिया करो…
अगर हम कभी आपसे नाराज हो जाएं, तो हमें मना लिया करो…
Is dil pe haath rakh ke, apne baare mein jaan liya karo…
Agar ham kabhi aapse naraaj ho jaen, to hamen mana liya karo…

हस्बैंड शायरी इन हिंदी

Husband romantic shayari

मुस्कुराहटें होठों का साथ नहीं छोड़ती, चाहतों को नूर नजर आता हैं…
आप हमसे इतना प्यार जो करते हो, बस इसीलिए खुद पे थोड़ा ग़ुरूर आ जाता हैं…
Muskurahaten hothon ka sath nahin chhodati, chahaton ko noor najar aata hain…
Aap hamse itana pyaar jo karate ho, bas isilie khud pe thoda guroor aa jaata hain…

Husband Romantic Shayari

मैंने जब भी खुद को ढूंढा हैं, तुम्हें खुद में पाया हैं…
तुम मुझे नहीं मिले हो, मैंने आपने आप को पाया हैं…
Maine jab bhi khud ko dhundha hain, tumhen khud mein paaya hain…
Tum mujhe nahin mile ho, maine apne aap ko paaya hain…

Husband Romantic Shayari

हर दिन मैं खुद को एक नया ख्वाब देती हूँ…
अपना साथ मैं छोड़ चुकी हूँ, अब बस तुम्हारा साथ देती हूँ…
Har din main khud ko ek naya khwaab deti hun…
Apna saath main chhod chuki hun, ab bas tumhara saath deti hun…

Husband Romantic Shayari

ना वो आसमां, ना ही मुझे वो चाँद चाहिए…
मुझे इस सफर में, बस तुम्हारा साथ चाहिए…
Na vo aasaman, na hi mujhe vo chaand chaahie…
Mujhe is safar mein, bas tumhaara saath chaahie…

Husband Romantic Shayari

जिस गली से गुजरती, तुम्हें ढूँढा करती थी,
अपने पते से पता तुम्हारा, पूँछा करती थी…
जब मिलें, तो वो हमें कभी अलग ना करे,
मैं उस रब से हमेशा बस यही दुआ करती थी…
Jis gali se gujarti, tumhen dhundha karti thi, apane pate se pata tumhaara, punchha karati thi…
Jab milen, to vo hamen kabhi alag na kare, main us rab se hamesha bas yahi dua karati thi…

Husband Wife Shayari

Husband Romantic Shayari

मेरा शाम, तुम्हारी बांहों में ही ढलता हैं…
सुबह जब तुम्हें देखती हूँ, तब मेरा दिन निकलता हैं…
Mera shaam, tumhari banhon mein hi dhalta hain…
Subah jab tumhen dekhti hun, tab mera din nikalta hain..

जिस गली जाती हूँ, ये मेरे साथ चलता हैं…
तुम्हारा ये दिल, अब मेरे सीने में धड़कता हैं…
Jis gali jaati hun, ye mere saath chalata hain…
Tumhara ye dil, ab mere seene mein dhadkata hain…

तुम्हें अपनी चाहतों में, मैं कब का कबूल कर चुकी हूँ…
जबसे मुझे तुम्हारा साथ मिला हैं, मैं खुद को भूल चुकी हूँ…
Tumhen apani chahaton mein, main kab ka kabool kar chuki hun…
Jabse mujhe tumhara saath mila hain, main khud ko bhool chuki hun…

सिर्फ तुम्हारा दिल बेक़रार नहीं हैं, हम भी इस दिल को बेक़रार करते हैं…
शायद ये आप को पता नहीं हैं, के हम आपको आपसे ज्यादा प्यार करते हैं…
Sirf tumhara dil beqarar nahin hain, ham bhi is dil ko beqarar karte hain… Shayad ye aap ko pata nahin hain, ke ham aapko aapse jyaada pyaar karate hain…

जब आपको हमारी नजरें देखती हैं, तो हमारे दिल को करार आता हैं…
जिस पल आप हमारे साथ होतें हो, हमें उस लम्हें से प्यार हो जाता हैं…
Jab aapko hamari najaren dekhti hain, to hamare dil ko karaar aata hain…
Jis pal aap hamare saath hoten ho, hamen us lamhen se pyaar ho jaata hain…

हस्बैंड शायरी Hindi Shayari

इस ज़माने के साथ, सबसे किनारा करती हैं,
मेरी चाहतें बस तुम्हीं को पुकारा करती हैं…
बाद उसके होठों से मुस्कुराहटें नहीं जातीं,
चाहतें तुम्हारे साथ जब वक्त गुजारा करती हैं…
Is zamane ke saath, sabse kinara karti hain,
Meri chahaten bas tumhi ko pukara karti hain…
Baad uske hothon se muskurahaten nahin jaatin, chahaten tumhare saath jab vakt gujara karti hain…

मेरी साँसों को, तुम अपने साथ लाते हो,
ये दिल धड़कता हैं, जब तुम पास आते हो…
हमारे मिलने से, अधूरा इश्क़ पूरा होता हैं,
मैं मुझसे मिली हूँ, तुम ये अहसास लाते हो…
Meri saanson ko, tum apne saath laate ho,
Ye dil dhadkata hain, jab tum paas aate ho…
Hamare milane se, adhura ishq poora hota hain,
Main mujhse milti hun, tum ye ahasas laate ho…

नजदीकियां बढ़ने के बाद, अब मुझे तुमसे दूरियां नहीं चाहिए…
ये सफर तुम्हारे साथ बस यूँ ही चलता रहे, मुझे अपने लिए और कुछ नहीं चाहिए…
Najdikiyan badhne ke baad, ab mujhe tumse duriyan nahin chahie…
Ye safar tumhare saath bas yun hi chalta rahe, mujhe apne lie aur kuchh nahin chaahie…

वक्त गुजारेंगे तुम्हारे साथ, तो खुशियाँ हमारी नहीं रूठेंगी…
ये मेंहदी तुम्हारे नाम की, अब कभी मेरे हाथों से नहीं छूटेगी…
Vakt gujarenge tumhare saath, to khushiyan hamari nahin ruthengi…
Ye menhadi tumhare naam ki, ab kabhi mere hathon se nahin chhutegi…

हमारे दिल में, आपके लिए जो मोहब्बत है,
उस मोहब्बत को हम खुद से अलग नहीं कर पाएंगे…
अपना हर दिन हम गुजारेंगे आपके साथ,
और एक रोज आपकी बाहों में ही मर जाएंगे…
Hamare dil mein, aapke lie jo mohabbat hai,
Us mohabbat ko ham khud se alag nahin kar paenge…
Apna har din ham gujarenge aapke saath,
Aur ek roj aapki baahon mein hi mar jaenge…

Miss You Husband Romantic Shayari

मेरी चाहतों के साथ मुझे छोड़ोगे, तो खुद को भी तुम परेशान करोगे…
अब अगर तुम मुझसे जरा भी दूर जाओगे, तो फिर गुनाह करोगे…
Meri chahaton ke saath mujhe chhodoge, to khud ko bhi tum pareshan karoge…
Ab agar tum mujhse jara bhi door jaoge, to phir gunaah karoge…

ना खुद को अलग कर सकती हूँ, ना तुम्हें खुद से दूर कर सकती हूँ…
बस एक आपसे जुदाई कबूल नहीं है, बाकी हर गम के साथ मैं रह सकती हूँ…
Na khud ko alag kar sakti hun, na tumhen khud se door kar sakti hun…
Bas ek aapse judai kabool nahin hai, baki har gam ke saath main rah sakti hun…

हमारा साथ रहना जरुरी है, फिर क्यूँ हम में ये दूरी है…
बस एक तुम्हारे खयालों में खोए रहते हैं, क्या हमारे बगैर आपकी मोहब्बत भी अधूरी है…
Hamara saath rahna jaruri hai, phir kyun ham mein ye doori hai…
Bas ek tumhare khayalon mein khoe rahte hain, kya hamare bagair aapki mohabbat bhi adhuri hai…

रातें लम्बी लगती हैं, दिन भी नहीं गुजर रहें हैं…
साँसे, साँस नहीं लेती हैं, हम भी तड़प रहे हैं…
Raten lambi lagti hain, din bhi nahin gujar rahen hain…
Sanse, saans nahin leti hain, ham bhi tadap rahe hain…

हमारी चाहतें इश्क़ में, सुबह से शाम करती हैं…
और तुम्हारी यादें, हमारे लिए किनारों का काम करती हैं…
Hamari chahaten ishq mein, subah se sham karti hain…
Aur tumhari yaden, hamare lie kinaron ka kaam karti hain…


Spread the love

Leave a Comment