Romantic Shayari | Love Romantic Shayari In Hindi

Spread the love

In this page you will read romantic shayari, romantic shayari in hindi, love romantic shayari, romantic shayari for gf and bf etc…

Romantic Shayari

Romantic shayari

उम्मीद करता हूं मेरी चाहतें तुम्हारी जिंदगी में रंग लाईं हो…
मुझे छूने वाली हवाएं, हो सकता है पहले तुम्हें छू के आईं हो…
Ummeed karta hun meri chahten tumhari jindagi mein rang laeen ho…
Mujhe chhoone vaali hawaen, ho sakata hai pahale tumhen chhi ke aain ho..

मेरी जान एक तुम्हीं में बसती है, फिर कैसे कहूं तुम इतने खास नहीं हो…
मैं दूर होकर भी तुमसे दूर नहीं हूं, कौन कहता है तुम मेरे पास नहीं हो…
Meri jaan ek tumhin mein basti hai, phir kaise kahoon tum itane khaas nahin ho…
Main door hokar bhee tumse door nahin hoon, kaun kahta hai tum mere paas nahin ho…

Romantic shayari

जब भी वक्त मिलता है, तुम्हारी यादों को छुआ करता हूं…
तुम्हारे साथ मैं कुछ लम्हा गुजार सकूं, उस रब यही दुआ करता हूं…
Jab bhi vakt milta hai, tumhari yaadon ko chhua karta hu…
Tumhare saath main kuchh lamha gujaar sakun, us rab yahi dua karta hun…

इश्क़ इतना बढ़ गया है, के अब हम तुमसे दूर रह नहीं सकते…
जितनी मोहब्बत तुमसे है, खुद से भी उतनी कर नहीं सकते…
Ishq itna badh gaya hai, ke ab ham tumse dur rah nahin sakte…
Jitni mohabbat tumse hai, khud se bhi utni kar nahin sakte…

Romantic shayari

तुम ख़ुश नहीं हो, तो मेरा दिल भी ख़ुश नहीं है…
तुमसे बढ़के मेरे लिए, अब और कुछ भी नहीं है…
Tum khush nahin ho, to mera dil bhi khush nahin hai…
Tumse badhke mere lie, ab aur kuchh bhi nahin hai…

Romantic Shayari In Hindi

Romantic shayari

दूर मुझे तुम जाने नहीं देते, पास तुम आ नहीं रहे हो…
जानते हो मैं सिर्फ तुम्हारा हूं, तभी तो इतना सता रहे हो…
Door mujhe tum jaane nhi dete, paas tum aa nhi rahe ho…
Janate ho mai sirf tumhara hun, tabhi to itna sata rahe ho…

तुम मिल जाओ मुझे, मुझे तुममें ही खोना हैं…
ना किसी और से मिलना है, ना किसी और का होना है…
Tum mil jao mujhe, mujhe tum men hi khona hain…
Na kisi aur se milna hai, na kisi aur ka hona hai..

Romantic shayari

एक तुम्हीं वो शख्श हो, जिसे खोने से मेरा ये दिल डरता है…
तुम्हें एक बार भी जो मैं देख लूं, तो फिर बार-बार देखने को मन करता है…
Ek tumhin vo shakhsh ho, jise khone se mera ye dil darta hai…
Tumhen ek baar bhi jo main dekh lun, to phir baar-baar dekhne ko man karta hai…

तुम्हें बताने को न जाने कितनी सारी बातें अभी बाकी हैं…
हर बार तुम्हारे मुस्कुराहटों की वजह मैं ही बनु, मेरे लिए इतना ही काफ़ी है…
Tumhen batane ko na jaane kitni saari baaten abhi baaki hain…
Har baar tumhare muskurahaton ki vajah main hee banu, mere lie itana hi kaafi hai…

Romantic shayari

मेरे दिन भी तुम्हारे नाम हैं, मेरी रातें भी तुम्हारे लिए जाग रही हैं…
उस खुदा से मेरी चाहतें तुम्हें, सातों जनम के लिए मांग रही हैं…
Mere din bhi tumhare naam hain, meri raaten bhi tumhare lie jaag rahi hain…
Us khuda se meri chahten tumhen, saaton janam ke lie maang rahi hain…

Romantic Shayari in English

Romantic shayari

मैं जानता हूं ये दिल मेरा तुम्हारे लिए कितना रोया है…
तुम्हें पाने से पहले ना जाने तुम्हें कितनी बार खोया है…
Main jaanata hoon ye dil mera tumhaare lie kitana roya hai…
Tumhen paane se pahale na jaane tumhen kitni baar khoya hai…

तुझसे मोहब्बत करके मैं जीना सीख गया हूं…
ना कोई मेरे करीब आया, ना मैं किसी और के करीब गया हूं…
Tujhse mohabbat karke main jeena seekh gaya hun…
Na koi mere kareeb aaya, na main kisi aur ke kareeb gaya hun…

मैं तुम्हारा अपना हूं, कोई गैर नहीं…
तुम्हारे साथ जीना चाहता हूं, तुम्हारे बगैर नहीं…
Mai tumhara apna hun, koi gair nhi…
Tumhare sath jeena chahta hun, tumhare bagair nhi…

Romantic shayari

बिना खुशबू के, फूलों को जैसा लगता है…
तुमसे बिछड़ के, मुझे भी कुछ वैसा ही लगता है…
Bina khushbu ke, fulon ko jaisa lagta hai…
Tumse bichhad ke, mujhe bhi kuch vaisa hi lagta hai…

Romantic shayari

तुम्हारी यादों को ओढ़ के, मैं रातों को सो गया…
तुम्हें मेरा होना है, मैं तो कब का तुम्हारा हो गया…
Tumhari yaadon ko odh ke, main raaton ko so gaya…
Tumhen mera hona hai, main to kab ka tumhara ho gaya…

Love Romantic Shayari

Romantic shayari

जबसे तुम्हारा साथ पाया है, ख्वाहिशें कहीं और खोई नहीं हैं…
तुम हर पल मेरे साथ रहते हो, एक तुम्हारे अलावा मेरा और कोई नहीं है…
Jabse tumhara saath paaya hai, khwahishen kahin aur khoi nahin hain…
Tum har pal mere saath rahte ho, ek tumhare alaava mera aur koi nahin hai…

जो कभी मैंने महसूस किया था, शायद फिर अपने लिए वही प्यार देखूंगा…
सामने से ये खूबसूरत चेहरा तुम्हारा, ना जाने कितने बरसों के बाद देखूंगा…
Jo kabhi maine mahsoos kiya tha, shayad phir apne lie vahi pyaar dekhunga…
Samane se ye khoobasurat chehara tumhara, na jaane kitne barason ke baad dekhunga…

Romantic shayari

किसी की खुशियों में शामिल नहीं होता, अपनी खुशियों के आने का इंतजार करता हूं…
तुम्हारे दिल में मेरे लिए कितना प्यार हैं, मैं नहीं जानता, पर मैं तो सिर्फ तुम्हीं से प्यार करता हूं…
Kisi ki khushiyon mein shaamil nahin hota, apni khushiyon ke aane ka intjaar karta hun…
Tumhaare dil mein mere lie kitna pyaar hain, main nahin janta, par main to sirf tumhin se pyaar karta hun…

शायद किस्मत हमें एक करना चाहती हो, तभी हमें एक दूसरे के करीब लाई हो…
मुझे भी तो कुछ और अच्छा नहीं लग रहा है, जबसे तुम मेरे करीब आई हो ..
Shayad kismat hamen ek karna chahti ho, tabhi hamen ek dusare ke kareeb lai ho…
Mujhe bhi to kuchh aur achchha nahin lag raha hai, jabse tum mere kareeb aai ho ..

इस जनम, मैं अपने हाथों में तुम्हारा हाथ चाहता हूं…
उतना मेरा कोई अपना मुझे नहीं चाहता, जितना मैं तुम्हें चाहता हूं…
Is janam, main apne haathon mein tumhara haath chahta hun…
Utna mera koi apna mujhe nahin chaahata, jitna main tumhen chahta hun…

तुम्हारी यादें

Romantic shayari

तुम्हारी यादें मुझे रातों से खींच लाती हैं…
सुबह जब आँख खुलती है, तुम्हारी ही याद आती है…
Tumhari yaade mujhe raaton se kheech laati hain…
Subah jab aankh khulti hai, tumhari hi yaad aati hai…

Romantic shayari

तुम्हारे बिना ये दिल मेरा, कभी कहीं खुश नहीं रहेगा…
तुम इसे अपना बना लो, ये हर वक्त तुम्हारे साथ रहेगा…
Tumhare bina ye dil mera, kabhi kahin khush nahin rahega…
Tum ise apna bana lo, ye har vakt tumhare saath rahega…

तुम मेरे लिए सब कुछ हो, क्या मैं भी तुम्हारी आँखों का नूर हूँ…
मैं तुम्हारे बहुत गरीब हूं, बस तुम्हारी नजारों से थोड़ा दूर हूँ…
Tum mere lie sab kuchh ho, kya main bhee tumhari aankhon ka noor hun…
Main tumhare bahut gareeb hun, bas tumhari najaaron se thoda door hun…

Romantic shayari

तुम्हें सबसे छुपा के रखा, तुम्हारे ख्वाबों को दिल में बसाया है…
जहां भी गया हूँ, सिर्फ तनहाइयां मिली, बस एक तुम्हारी यादों ने मुझे हंसाया है…
Tumhen sabase chhupa ke rakha, tumhare khwaabon ko dil mein basaaya hai…
Jahan bhi gaya hun, sirf tanhaiyan mili, bas ek tumhari yaadon ne mujhe hansaya hai…

तुम हमसे मिलो या ना मिलो, हम ते रहेंगे…
भले ही तुम हमें याद ना करो, पर हम तुम्हें अपनी याद दिलाते रहेंगे…
Tum hamase milo ya na milo, ham te rahenge…
Bhale hi tum hamen yaad na karo, par ham tumhen apni yaad dilate rahenge…

Romantic Shayari For GF

Romantic shayari

दिल कहता है तुमसे बेहिसाब प्यार कर लूँ,
तुम्हारी मुस्कुराहटों को अपनी आंखों में भर लूँ…
अपनी आदतों को तुम्हारा गुलाम बना के,
तुम्हें अपनी बाहों में मैं गिरफ्तार कर लूँ…
Dil kahta hai tumse behisab pyaar kar lun,
Tumhari muskurahton ko apani aankhon mein bhar lun…
Apani aadaton ko tumhara gulaam bana ke,
Tumhen apani baahon mein main giraftaar kar lun…

तुम्हारे गमों को, मैं अपनी चाहतों से पोंछना चाहता हूं…
तुम्हें अपनी बाहों में भर के, हर एक लम्हे को रोकना चाहता हूं…
Tumhaare gamon ko, main apani chahton se ponchhana chahta hun…
Tumhen apani baahon mein bhar ke, har ek lamhe ko rokana chahta hun…

Romantic shayari

मैं उन्हें साथ देखता हूं, तो मुझे तुम्हारा खयाल आ जाता है…
एक-दूसरे का हाथ जब वो पकड़ के चलते हैं, तो मुझे तुम पे प्यार आ जाता है…
Main unhen saath dekhta hun, to mujhe tumhara khayaal aa jaata hai…
Ek-dusare ka haath jab vo pakad ke chalte hain, to mujhe tum pe pyaar aa jaata hai…

तुम्हारे लिए, ना जाने खुद को कितना परेशान करता हूं…
तुमसे मोहब्बत मिल नहीं रही, फिर भी तुम्हीं से प्यार करता हूं…
Tumhaare lie, na jaane khud ko kitna pareshaan karta hun…
Tumse mohabbat mil nahin rahee, phir bhi tumhin se pyaar karta hun…

जमाना इधर का उधर हो जाए, हम तुम्हारी तरफ ही रहेंगे…
सोने को अगर तुम्हारी बाहें मिलें, तो जल्दी कभी नहीं उठेंगे…
Jamaana idhar ka udhar ho jae, ham tumhari taraf hi rahenge…
Sone ko agar tumhari baahen milen, to jaldi kabhi nahin uthenge…

हिंदी रोमांटिक शायरी

मुझे फर्क नहीं पड़ेगा, के दूसरों को ये रिश्ता कितना सच्चा लगेगा…
मैं इस रिश्ते को वही नाम दूंगा, जो नाम तुम्हें अच्छा लगेगा…
Mujhe fark nahin padega, ke dusaron ko ye rishta kitna sachcha lagega…
Main is rishte ko vahi naam dunga, jo naam tumhen achchha lagega…

हवाओ की जगह, मेरे चारों तरफ बस इश्क़ बह रहा है…
क्या तुम्हें भी महसूस होता है, मेरा दिल जो तुमसे कहना चाह रहा है…
Havao ki jagah, mere chaaron taraf bas ishq bah raha hai…
Kya tumhen bhi mahsoos hota hai, mera dil jo tumse kahna chaah raha hai…

कोई रकीब नहीं होगा, जब एक दूसरे पे ऐतबार होगा…
जहां आँखें भीग जाती होंगी, बस वही सच्चा प्यार होगा…
Koi rakeeb nhi hoga, jab ek-dusare pe itbaar hoga…
Jahan aankhe bheeg jaati hongi, bas vhai sachcha pyar hoga..

कोई कैसे रोक लेता, बंजर जमीं में जब चाहतों को खिलना था…
मैं भी और कितना इंतजार करता, तुमसे मिलके मुझे खुद से भी तो मिलना था…
Koi kaise rok leta, banjar jameen mein jab phoolon ko khilana tha…
Main bhee aur kitana intajaar karata, tumase milake mujhe khud se bhee to milana tha…

बहुत कुछ कहना था तुमसे, पर कभी कुछ कह नहीं पाया…
तुम्हारा दीदार जहां ना कर सका, वहां ज्यादा देर ठहर नहीं पाया…
Bahot kuch kahna tha tumse, par kabhi kuch kah nhi paya..
Tumhara didaar jahan na kar saka, vahan jyada der mai thahar nhi paya…

2 line रोमांटिक शायरी

तुम मेरे साथ रहो, जब मैं कोई खूबसूरत समा देखूं…
अपनी जमीं को तुम्हारे नाम करके, तुम्हारी आंखों से वो आसमां देखूँ…
tum mere saath raho, jab main koi khoobbasurat sama dekhun…
apanee jameen ko tumhaare naam karake, tumhari aankhon se vo aasamaan dekhun…

तुम्हारी यादों को याद करता हूं, क्यूंकि मैं तुमसे प्यार करता हूं,
मेरी चाहतें बस तुम्हें चाहती हैं, इसीलिए तुम्हारा इंतजार करता हूं…
Tumhari yaadon ko yaad karta hun, kyunki main tumse pyaar karta hun,
Meri chahten bas tumhen chahati hain, iselie tumhara intajaar karta hun…

समंदर ने मुझसे कहा, के तू उसके आगे कुछ भी नहीं है…
मैंने उससे कह दिया, मेरी मोहब्बत से गहरा तो तू भी नहीं है…
Samandar ne mujhse kaha, ke tu usake aage kuchh bhi nahin hai…
Maine usase kah diya, meri mohabbat se gahra to tu bhi nahin hai…

बात-बात पर खफा मत होया करो, हमें बनाना नहीं आता…
प्यार तो तुमसे बहोत करते हैं, बस हमें जताना नहीं आता…
Baat-baat par khafa mat hoya karo, hamen banana nahin aata…
Pyaar to tumse bahot karte hain, bas hamen jatana nahin aata…

मैं अक्सर तुम्हारी गलियों से होकर गुजरता हूं…
तुम मुझे नहीं देखते हो, पर मैं तुम्हें रोज देखता हूं…
Main aksar tumhari galiyon se hokar gujarta hun…
Tum mujhe nahin dekte ho, par main tumhen roj dekhta hun…

मेरे चेहरे पे

मेरे चेहरे पे एक और चेहरा है, जो हूबहू तुम्हारे जैसा है..
तुम आईने में खुद को देखती हो, पर मेरा आइना तो तुम्हारे जैसा है…
Mere chehare pe ek aur chehara hai, jo hubahu tumhare jaisa hai..
Tum aaine mein khud ko dekhti ho, par mera aaina to tumhare jaisa hai…

मेरे दिल में एक तुम्हीं हो, मेरे लबों पे आती खुशी हो…
मैं खुले आसमां की तरह हूँ, और तुम मेरी जमीं हो..
Mere dil men ek tumhi ho, mere labon pe aati khushi ho…
Mai khule aasman ki tarah hun, aur tum meri jami ho…

उनसे बातें करने को हमारे ये होंठ तरसते हैं…
खुश हम हो जाते हैं, जब भी कभी वो हंसते हैं…
Unse baaten karne ko hamare ye honth tarsate hain…
Khush ham ho jaate hain, jab bhi kabhi vo hansate hain…

मेरी यादों को तुम ओढ़ लो, तुम्हारी यादों से मैं बात करता हूं…
अपनी आंखों को तुम्हें दिखा के, खुद को परेशान करता हूं…
Meri yaadon ko tum odh lo, tumhari yaadon se main baat karata hun…
Apni aankhon ko tumhen dikha ke, khud ko pareshaan karta hun…

किसी और की मुझे जरूरत नहीं, एक तू मेरा यार है…
मैं अगर कुछ पाना चाहता हूं, तो वो बस तुम्हारा तेरा प्यार है…
Kisi aur kee mujhe jarurat nahin, ek too mera yaar hai…
Main agar kuchh paana chaahata hun, to vo bas tumhara tera pyaar hai…

Love Romantic Shayari

तुम्हारी तरह मैं भी खुश नहीं हूं, तुम्हारे बिना मैं कुछ नहीं हूं…
मैं आऊँगा कुछ दिन इंतजार कर लो, आज भी मैं वहीं हूं, यहां नहीं हूं…
Tumhari tarah main bhee khush nahin hun, tumhare bina main kuchh nahin hun…
Main aaunga kuchh din intjaar kar lo, aaj bhi main vahin hun, yahaan nahin hun…

ये इश्क़ हमारा ज़माने से जुदा हो…
हमारे बीच और कोई नहीं, बस हमारा खुदा हो…
Ye ishq hamara jamane se juda ho
Hamare beech aur koi nhi, bas hamara khuda ho

वो चाँद सितारे सब होंगे…
जब एक-दूसरे के साथ हम होंगे…
Vo chand sitare sab honge
Jab ek dusare ke sath ham honge

तुम्हें पाने के लिए ना जाने कितनी मिन्नते की हैं…
जिन ख्वाबों में तुम्हारे साये हैं, सिर्फ उन्हीं का दुआएं दी हैं…
Tumhen paane ke lie na jaane kahaan-kahaan minnate ki hain…
Jin khwabon mein tumhare saaye hain, sirf unheen ka duaen dee hain…

तुम मेरे ख्वाबों की राजकुमारी हो, हमसे पूछो तुम कितनी प्यारी हो…
कोई तुमसे अगर पूछे तो कह देना, तुम सिर्फ और सिर्फ हमारी हो…
Tum mere khwabon ki rajkumari ho, hamse poochho tum kitni pyari ho…
Koi tumse agar poochhe to kah dena, tum sirf aur sif hamari ho…

रोज-रोज खुद को क्यों सता रहे हो,
एक रोज उनसे बात क्यूँ नहीं करते हो…
वो तुम्हारे पास आने की जिद नहीं कर रही,
तुम उसके पास जाने की जिद क्यूँ नहीं कर रहे हो…
Roj-roj khud ko kyon sata rahe ho,
Ek roj unase baat kyun nahin karte ho…
Vo tumhaare paas aane ki jid nahin kar rahi,
Tum uske paas jaane ki jid kyoon nahin kar rahe ho…


Spread the love

Leave a Comment