Zindagi Shayari In Hindi | Life Shayari | Zindagi

Spread the love

In this page you will read zindagi shayari, zindagi shayari in hindi, zindagi quotes, life zindagi shayari, zindagi 2 line shayari etc…

Zindagi shayari in hindi

वो तुम्हारे ख्वाबों मे शामिल हो, ना हो, पर अपने ख्वाब तो बुनेगा…
जिस शख्स की तुम्हें जरुरत है, वो भी अपने लिए अच्छा ही चुनेगा…

Vo tumhare Khwabon men shamil ho na ho, par apne khwab to bunega…
Jis shaks ki tumhe jarurat hai, vo bhi apne liy achcha hi chunega…

Zindagi shayari in hindi

तुम्हारी खूबियों को एक-एक कर, वो तुम्हें गिना सकती है…
तुम्हारी अपनी मोहब्बत भी, तुम्हें कामयाब बना सकती है…

Tumhari khubiyon ko ek -ek kar, vo tumhe gina sakti hai…
Tumhari apni mohabbat bhi, tumhe kaamyaab bana sakti hai…

Zindagi shayari in hindi

मैं इस दुनियाँ से खुद को बेखबर रखता हूं,
ऐसा नहीं है के मेरी नजर में ये दुनियाँ बेकार है…
मैं बस उनके लिए थोड़ा पागल हो जाता हूं,
जिनके लिए इस दिल मे बहोत ज्यादा प्यार है…

Main is duniyaan se khud ko bekhabar rakata hoon,
Aisa nahin hai ke meri najar mein ye duniyaan bekaar hai…
Main bas unake lie thoda paagal ho jaata hoon,
Jinke lie is dil me bahot jyaada pyaar hai…

Zindagi shayari in hindi

जो कामयाब है, लोग उसकी तरह बनना चाहते हैं…
पर वो जिस रास्ते से गुजरा है, लोग वहां से गुजरना नहीं चाहते हैं…

Jo kamyaab hai, log uski tarah banana chahte hain…
Par vo jis raste se gujare hai, log vahan se gujarna nhi chahten hain…

Zindagi shayari in hindi

जिस शख्स को मै पसंद नहीं आया,
उस शख्स से मैंने भी कोई रिस्ता नहीं रखा…
और जिसने कभी मुझसे कोई रिस्ता रखा,
उसकी जगह पे फिर मैंने किसी और को नहीं रखा…

Jis shakhs ko mai pasand nahin aaya,
Us shakhs se maine bhi koi rista nahin rakha…
Aur jisne kabhi mujhse koi rista rakha,
Usaki jagah pe phir maine kisi aur ko nahin rakha…

Zindagi Shayari In Hindi

Zindagi shayari in hindi

तुम्हारी मोहब्बत में इतनी शिद्दत नहीं है…
वरना फूलों को काँटों से दिक्कत नहीं है…

Tumhari mohabbat men itni siddat nhi hai…
Varna folon ko katon se dikkat nhi hain…

Zindagi shayari in hindi

कपड़ों पे दाग लग जाए, तो कपड़े अच्छे नहीं लगते हैं…
फिर तो गैरों की दूर की बात है जनाब, यहां अपने ही गले नहीं लगते हैं…

Kapdon pe daag lag jae, to kapade achchhe nahin lagate hain…
Phir to gairon ki door ki baat hai janaab, yahan apane hi gale nahin lagte hain…

Zindagi shayari

कोई कुछ बोलता है, तो बस यूँही आंखें भर लेता हूं…
जबकि मोहब्बत से कहीं अच्छी, तो मैं नफरत कर लेता हूं…

Koi kuchh bolta hai, to bas yunhi aankhen bhar leta hoon…
Jabki mohabbat se kahin achchhi, to main nafarat kar leta hoon…

Zindagi shayari in hindi

अपनी मंजिल को पा सकूँ , खुद को इतना काबिल बनाना चाहता हूँ…
ये जिंदगी मुझे जो कुछ सिखाना चाह रही है, मैं सब सीखना चाहता हूँ …

Apni manjil ko paa sakun, khud ko itna kabil banana chahta hu…
Ye zindagi mujhe jo kuch sikhana chah rhi hai, mai sab seekhna chahta hun…

सब कुछ खत्म नहीं हुआ है, अभी भी कुछ बाकी है…
मैं अपनी नजरों में ठीक हूं, मेरे लिए इतना काफी है…

Sab kuchh khatm nahin hua hai, abhi bhi kuchh baaki hai…
Main apni najaron mein theek hoon, mere lie itna kaafi hai…

Life Zindagi Shayari

Zindagi shayari in hindi

खुशबू की तलाश में, खूबसूरत फूलों को लोगों ने एक-एक करके छांटे हैं…
अब कैसे उन्हें बताऊँ, के खुशबू सिर्फ उन्हीं फूलों में है,जिनमें कुछ कांटे हैं…

khushabu ki talaash mein, khoobasurat foolon ko logon ne ek-ek karake chhante hain…
Ab kaise unhe bataoon, ke khushaboo sirf unheen phoolon mein hai, jinmen kuchh kaante hain…

किसी की जिंदगी, किसी के हिसाब से नहीं चलती है…
जो हमेशा संभल के चलते हैं, ठोकरे उन्हें भी मिलतीं हैं..

Kisi ki zindagi, kisi ke hisaab se nhi chalti hai…
Jo hamesha sambhal ke chalte hain, thokare unhen bhi milti hain…

Zindagi Shayari

जिसके लिए तो अच्छा है, दूसरों को वो अच्छा लगता नहीं है…
पीठ पीछे पहले उसकी बुराई करते हैं, फिर कहते हैं वो अच्छा नहीं है…

Jiske lie to achchha hai, dusaron ko vo achchha lagata nahin hai…
Peeth peechhe pahale usaki burai karte hain, phir kahte hain vo achchha nahin hai…

मैं अपनी नजरों में सही रहना चाहता हूँ, मुझे किसी के आगे झुकना नहीं है…
जो साथ हैं, उन्हें साथ ले के चलूँगा, पर किसी के लिए मुझे रखना नहीं है…
Mai apni najron men sahi rahna chahata hun, mujhe kisi ke aage jhukna nhi hai…
Jo sath hain, unhe sath le ke chalunga, par kisi ke liy mujhe rukhna nhi hai…

वहां किसी के लिए प्यार था, तो वहीं किसी की आंखें बही हैं…
तुम किस-किस को गलत ठहराओगे, यहां सब तो अपनी नजरों में सही हैं…

Vahan kisi ke lie pyaar tha, to vahin kisi ki aankhen bahi hain…
Tum kis-kis ko galat thaharaoge, yahaan sab to apani najaron mein sahi hain…

Whatsapp Zindagi Shayari hindi

Zindagi shayari

अब हमें किसी से कोई शिकवा गिला नहीं है…
जो अपनी गलतियों को मान सके, अभी तक कोई ऐसा मिला भी नहीं है…

Ab hamen kisi se koi shikava gila nahin hai…
Jo apni galatiyon ko maan sake, abhi tak koi aisa mila bhi nahin hai…

उनके पास सब कुछ होने के बाद भी,कुछ नहीं है…
मेरी जिंदगी मेरी है, किसी और की मोहताज नहीं है…
Unake paas sab kuchh hone ke baad bhi, kuchh nahin hai…
Meri zindagi meri hai, kisi aur ki mohataaj nahin hai…

दूसरों की खुशियाँ छीन के, जिनकी जिंदगी चल रही है…
जरा उनकी जुबान तो देखो, कैसे कैंची की तरह चल रही है…

Dusaron ki khushiyaan chheen ke, jinki zindagi aage chal rhi hai…
Jara unki jubaan to dekho, kaise kainchi ki tarah chal rahi hai…

जो खुद को मुझसे दूर रखते हैं, मैं उनके करीब नहीं जाऊंगा…
दूसरों की खुशियों पे पैर रख के, अपनी खुशियों को हाथ नहीं लगाऊंगा…

Jo khud ko mujhse door rakhte hain, main unake kareeb nahin jaunga…
Doosaron ki khushiyon pe pair rakh ke, apani khushiyon ko haath nahin lagaunga…

उजालों में ही सब कुछ नहीं मिलता है, चलो अँधेरे में भी कुछ ढूंढ लेते हैं…
ना जीने के तो हजारों बहाने हैं, चलो जीने की एक वजह ढूंढ लेते हैं…

Ujaalon mein hi sab kuchh nahin milata hai, chalo andhere mein bhi kuchh dhundh lete hain…
Na jeene ke to hajaaron bahaane hain, chalo jeene ki ek vajah dhundh lete hain…

2 Line Zindagi Shayari

ना कोई किसी की सुनता है, ना कोई किसी को सुनना चाहता है…
यहां हर कोई अपनी जिंदगी को, सिर्फ अपने तरीके से जीना चाहता है…

Na koi kisi ki sunata hai, na koi kisi ko sunana chaahata hai…
Yahaan har koi apni zindagi ko, sirf apane tareeke se jeena chaahata hai…

कुछ अच्छा नहीं लगता है, दिन भी जैसे भारी है…
ना गुजरने वाली रातें, मैंने तो बहोत गुजरी हैं…

Kuchh achchha nahin lagata hai, din bhi jaise bhari hai…
Na gujarane vaali raaten, maine to bahot gujari hain…

दूसरों से वोे नहीं लड़ सकते, इसीलिए खुद से लड़ रहे हैं…
वो घर के बड़े हैं, जो अपनी जिम्मेदारियों को समझ रहे हैं…

Dusaron se voe nahin lad sakate, iseelie khud se lad rahe hain…
Vo ghar ke bade hain, jo apanee jimmedariyon ko samajh rahe hain…

मोहब्बत तो एक खूबसूरत एहसास है, जो किसी के होने का एहसास दिलाती है…
पर जिनकी मोहब्बत बंद कमरे से शुरू होती है, उनकी मोहब्बत वहीं तक रह जाती है…

Mohabbat to ek khoobasurat ehsaas hai, jo kisi ke hone ka ehsaas dilati hai…
Par jinki mohabbat band kamare se shuru hotee hai, unki mohabbat vahin tak rah jaati hai…

मुझे बदलने वाले, अब खुद बदल रहे हैं…
जो नकाब उन्होंने पहना था, अब उसे उतार रहे हैं…

Mujhe badlane vaale, ab khud badal rahe hain…
Jo nakaab unhonne pahna tha, ab use utaar rahe hain…

Life Shayari Quotes

पूरे हुए सपने कभी-कभी नीचे गिरा देते हैं…
वहीं कुछ अधूरे सपने, जिंदगी को जीना सिखा देते हैं.

Poore hue sapne kabhi-kabhi neeche gira dete hain…
Vahin kuchh adhure sapne, zindagi ko jeena sikha dete hain…

खुशियों को पाने के चक्कर में, मैंने खुश रहना सीख गया हूँ…
जिंदगी में जितने भी आए हैं, सबसे मैं कुछ न कुछ सीख गया हूँ…

Khushiyon ko paane ke chakkar mein, maine khush rahana seekha gya hun…
Zindagi mein jitane bhi aae hain, sabse main kuchh na kuchh seekha gya hun…

जो गमों को नहीं सह सकते, वो दूसरों से खुशियां मांग लेते हैं…
वहीं कुछ पल भर की खुशियों के लिए पूरी जिंदगी इंतजार कर लेते हैं…

Jo gamon ko nahin sah sakte, vo dusaron se khushiyaan maang lete hain…
Vaheen kuchh pal bhar ki khushiyon ke lie, poori zindagi intajaar kar lete hain…

जो कुछ कर सकता है, वो भीड़ से आगे निकलता नहीं है…
दूर से तो आसमां भी धरती से मिला है, जबकि वो कहीं मिलता नहीं है…

Jo kuchh kar sakata hai, vo bheed se aage nikalta nahin hai…
Door se to aasamaan bhi dharati se mila hai, jabaki vo kaheen milata nahin hai…

हर कोई अपने लिए कुछ ना कुछ मांग रहा है…
पर कोई किसी को कुछ देने के लिए राजी नहीं है…

Har koi apane lie kuchh na kuchh maang raha hai…
Par koi kisi ko kuchh dene ke lie raaji nahin hai…

भीड़ से अलग रहने वाले, अपने आप को समझ पाते हैं…
जो आगे बढ़ने की कोशिश करते हैं, ठोकरें सिर्फ वही खाते है…

Bheed se alag rahne vaale, apne aap ko samajh paate hain…
Jo aage badhane ki jo koshish karte hain, thokaren sirf vahi khaate hai…

Sad Zindagi Shayari

जो अपनी जिंदगी को नहीं पढ़ सकता, वो किताबें पढ़ कर क्या करेगा…
आज जिसके पीछे जो भाग रहा है, कल को उसे वो ना मिला तो क्या करेगा…

Jo apani zindagi ko nahin padh sakata, vo kitaaben padh kar kya karega…
Aaj Jisake peechhe jo bhaag raha hai, kal ko use vo na mila to kya karega…

जीतने की चाहत में, मैंने हार को कुबूल करना सीखा है…
शोर जहां ज्यादा होता है, मैंने वहां खामोश रहना सीखा है…

Jeetane ki chaahat mein, maine haar ko kubool karna seekha hai..
Shor jahaan jyaada hota hai, maine vahaan khamosh rahana seekha hai…

किसी से हम मिलते नहीं हैं, अकेले ही रहते हैं…
फिर हम क्या जाने, ये लोग हमारे बारे में किसी से क्या कहते हैं…

Kisi se milate nahin hai, akele hi rahte hain…
Phir ham kya jaane, ye log hamare baare men kisi se kya kahte hain…

कभी-कभी एक छोटी सी गलती भी
हमारी पूरी जिंदगी को तबाह कर देती है…

Kabhi-kabhi ek chhoti si galati bhi
hamari poori zindagi ko tabah kar deti hai…

दूसरे क्या करते हैं, मुझे फर्क नहीं पड़ता है…
मैं क्या कर रहा हूं, मुझे इस बात से फर्क पड़ता है…

Dusare kya karte hain, mujhe fark nahin padta hai…
Main kya kar raha hun, mujhe is baat se fark padta hai…

जो तुम्हारे जख्मों को हरा हरे, बेसक तुम उसे याद मत करना…
पर जिनकी बातों में मिठास ज्यादा हो, उनपे विश्वास मत करना…

Jo tumhare jakhmon ko hara kare, besak tum unhe yaad mat karana…
Par jinki baaton mein jyada mithaas ho, unpe vishvaas mat karana…

Life Sad Shayari

कामयाबी की राह पर खुद चल कर देखना है …
आँख बंद करके किसी और पर भरोसा नहीं करना है…

Khamyabi ki rah par, khud chal ke dekhna chhaiye…
Aankh band karke kisi air par vishwash nhi karna chahiye…

फरियाद करने वाले फरियाद ही करेंगे…
खुदा के घर में रहकर भी, खुदा को याद करेंगे…

Fariyaad karne vaale fariyaad hi karenge…
Khuda ke ghar men, khuda ko hi yaad karenge…

लोगो को कितना अच्छा लगता है, किसी के जज्बातों से खेलना…
वो पसंद आया तो ठीक है, वरना किसी और को देखना…

Logon ko kitna achchha lagta hai, kisi ke jajbaaton se khelana…
Vo pasand aaya to theek hai, varna kisi aur ko dekhna…

बस इतना ही नहीं हूं मैं थोड़ा और हूं…
तू वक्त की तरह है, मैं पूरा दौर हूं…
Bas itana hi nahin hoon main thoda aur hoon…
Tu vakt ki tarah hai, main poora daur hoon…

गमों को आने दो, मैं उससेे मिलना चाहता हूं…
वो जिस लिबास में है, मैं उससे उसी लिबास में मिलना चाहता हूं…

Gamon ko aane do, main usase milana chaahata hoon…
Vo jis libaas mein hai, main usase usi libaas mein milana chaahata hoon…

अपनी कहानी मैंने अभी तक किसी को सुनाई नहीं है…
क्योंकि मेरी किस्मत अभी तक मेरे हाथों में आई नहीं है…

Apani kahani maine abhi tak kisi ko sunaee nahin hai…
Kyonki meri kismat abhi tak mere haathon mein aai nahin hai…


Spread the love

1 thought on “Zindagi Shayari In Hindi | Life Shayari | Zindagi”

Leave a Comment